jaidev jaidev lyrics | जयदेव जयदेव लिरिक्स

  गणेश भगवान की आरती  की विधि- विधान से पूजा- अर्चना की जाती है, भगवान गणेश प्रथम पूजनीय देव हैं किसी भी शुभ कार्य से पहले भगवान गणेश की पूजा- अर्चना की जाती है.

Ganesh Aarti: गणेश चतुर्थी का त्योहार बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है। 31/08/2022  से इस पर्व की शुरुआत हुई है जो 09/09/2022  तक चलेगा। पूरे 10 दिनों तक चलने वाले इस उत्सव में लोग अपने घर में भगवान गणेश की प्रतिमा लाते हैं और उनकी विधि विधान पूजा करते हैं। इसके बाद एक निश्चित दिन पर इस प्रतिमा का विसर्जन कर दिया जाता है.
गणेश जी की पूजा के समय सबसे जरूरी होती है उनकी आरती (jaidev jaidev lyrics, जयदेव जयदेव लिरिक्स  ) | गणेश जी की आरती जिसके बिना पूजा अधूरी मानी जाती है यहां देखें गणपति जी की आरती इस पावन दिन गणेश जी की आरती जरूर करें। हिंदू धर्म में किसी भी शुभ काम को करने से पहले भगवान श्री गणेश की पूजा-अर्चना करनी बेहद जरूरी होती है
।भगवान श्री गणेश सभी देवताओं में पूजनीय है। शास्त्रों के अनुसार भगवान श्री गणेश की पूजा अर्चना करने से सभी विघ्न-बाधाएं हमेशा के लिए दूर हो जाती हैं.
भगवान श्री गणेश को एकदंत के नाम से भी पुकारा जाता है। वहीं उनको व‍िघ्‍नहर्ता का नाम भी दिया गया है, ऐसी मान्यता है, कि भगवान श्री गणेश की पूजा अर्चना यदि  ना की जाए, तो कोई भी कार्य सफल नहीं हो पाता है। धर्म के अनुसार भगवान | गणेश जी की आरती को शुभ माना  ज्याता  है.

 यहां आप भगवान श्री गणेश भगवान  की आरती लिरिक्स के साथ पढ़ सकते है। आगे पढ़ें गणेश भगवान  जी की आरती ganesh bhagwan ki aarti ...




jaidev jaidev lyrics
jidev jaidev lyrics | जयदेव जयदेव लिरिक्स





jaidev jaidev lyrics | जयदेव जयदेव लिरिक्स :


सुख करता दुखहर्ता, वार्ता विघ्नाची
नूर्वी पूर्वी प्रेम कृपा जयाची
सर्वांगी सुन्दर उटी शेंदु राची
कंठी झलके माल मुकताफळांची

जय देव जय देव, जय मंगल मूर्ति
दर्शनमात्रे मनःकामना पूर्ति
जय देव जय देव

रत्नखचित फरा तुझ गौरीकुमरा
चंदनाची उटी कुमकुम केशरा
हीरे जडित मुकुट शोभतो बरा
रुन्झुनती नूपुरे चरनी घागरिया

जय देव जय देव, जय मंगल मूर्ति
दर्शनमात्रे मनःकामना पूर्ति
जय देव जय देव

लम्बोदर पीताम्बर फनिवर वंदना
सरल सोंड वक्रतुंडा त्रिनयना
दास रामाचा वाट पाहे सदना
संकटी पावावे निर्वाणी रक्षावे सुरवर वंदना

जय देव जय देव, जय मंगल मूर्ति
दर्शनमात्रे मनःकामना पूर्ति
जय देव जय देव

शेंदुर लाल चढायो अच्छा गजमुख को
दोन्दिल लाल बिराजे सूत गौरिहर को
हाथ लिए गुड लड्डू साई सुरवर को
महिमा कहे ना जाय लागत हूँ पद को

जय जय जय जय जय
जय जय जी गणराज विद्यासुखदाता
धन्य तुम्हारो दर्शन मेरा मत रमता
जय देव जय देव

अष्ट सिधि दासी संकट को बैरी
विघन विनाशन मंगल मूरत अधिकारी
कोटि सूरज प्रकाश ऐसे छबी तेरी
गंडस्थल मद्मस्तक झूल शशि बहरी

जय जय जय जय जय
जय जय जी गणराज विद्यासुखदाता
धन्य तुम्हारो दर्शन मेरा मत रमता
जय देव जय देव

भावभगत से कोई शरणागत आवे
संतति संपत्ति सबही भरपूर पावे
ऐसे तुम महाराज मोको अति भावे
गोसावीनंदन निशिदिन गुण गावे

जय जय जी गणराज विद्यासुखदाता
धन्य तुम्हारो दर्शन मेरा मत रमता
जय देव जय देव 




jaidev jaidev lyrics – Ganpati Aarti with Lyrics and Translation:

Marathi Lyrics |1|
सुख करता दुखहर्ता वार्ता विघ्नची नूर्वी पूर्वी प्रेम कृपा जयाची
सर्वांगी सुंदर उटीशेंदुराराची कंठी झळके माळ मुक्ताफळांची

जयदेव जयदेव जय मंगल मूर्ती दर्शन मात्रे मन कामना पुरती
जय देव जय देव जय मंगल मूर्ती ||

English Lyrics |1|
Sukh Karta Dukhharta Varta Vighnachi  Noorvi Poorvi Prem Krupya Jayachi
Sarwangi Sundar Utishendu Rachi Kanthi Jhalke Maad Mukhta Padhanchi

Jai Dev Jai Dev Jai Mangal Murti Darshan Marte Maan Kamana Purti
Jai Dev Jai Dev Jai Mangal Murti

Hindi Meaning |1|
भगवान् जो हमे सुख देते है और दुखो को दूर करते है. सभी मुश्किलों से मुक्त करते है.
जो आशीर्वाद के रूप मैं हर जगह अपना प्यार फैलाते है. ||
जिनके शारीर पर सुन्दर लाल-नारंगी रंग है.
और गले मैं अति-सुन्दर मोतियों ( मुक्ताफल ) की मारा पहनी हुई है. ||
भगवान् की इस मंगल मूर्ति से प्रार्थना करो. भगवान् के दर्शन मात्र से ही हमारी सारी
इच्छाओ की पूर्ति हो जायेगी. ||१||

English Meaning |1|

Oh Lord who provides Joy, takes away Sadness
and removes all “vighnas” (obstacles) in life
Who spreads love everywhere as his blessing
Who has lovely “shendur utna”
(yellow-orange fragrance paste) all over his body
Who has a necklace of “Mukataphal”
(pearls in Sanskrit) around his neck
Hail the god, Hail the god, Hail the auspicious idol
All our wishes are fulfilled just by “darshan”
Hail the god, Hail the god, Hail the auspicious idol


Ganpati Aarti ( jaidev jaidev | जयदेव जयदेव) in Marathi with English Translation:

jaidev jaidev lyrics


jaidev jaidev lyrics(जयदेव जयदेव आरती )





सुख करता दुखहर्ता, वार्ता विघ्नाची
नूर्वी पूर्वी प्रेम कृपा जयाची
सर्वांगी सुन्दर उटी शेंदु राची
कंठी झलके माल मुकताफळांची

Oh Lord who provides Joy, takes away Sadness  and removes all obstacles in life
Who spreads love everywhere as his blessing Who has lovely shendur utna all over his body
Who has a necklace of Mukataphal around his neck


जय देव जय देव, जय मंगल मूर्ति
दर्शनमात्रे मनःकामना पूर्ति
जय देव जय देव
रत्नखचित फरा तुझ गौरीकुमरा
चंदनाची उटी कुमकुम केशरा
हीरे जडित मुकुट शोभतो बरा

Hail the god, Hail the god, Hail the auspicious idol All our wishes are fulfilled just by darshan
Offering you Seat studded with Ratna for you Gaurikumra Smearing you with Chandan utna and Kumkum on the head
Diamond studded crown suites you right


लम्बोदर पीताम्बर फनिवर वंदना
सरल सोंड वक्रतुंडा त्रिनयना
दास रामाचा वाट पाहे सदना
संकटी पावावे निर्वाणी रक्षावे सुरवर वंदना
जय देव जय देव|

Whose anklets tingle in his feet Hail the god, Hail the god, Hail the auspicious idol
Lambodar Who wears Pitaambar Lambodar from the long lambo, tummy udar
Who has Straight trunk and is Vakratunda and Trinayana
I am waiting for you in my home just like the slave of Lord Rama
Please help us and protect us during bad times, my Salutations to lord
Hail the god, Hail the god, Hail the auspicious idol